Technical Analysis क्या होता है ?

Technical Analysis क्या होता है ?

नमस्कार दोस्तों, Bazaareducation में आपका स्वागत है। आज हम इस Article में Technical Analysis क्या होता है ? इस बारे में Complete Details में जानने वाले हैं।

जैसे कि :- 1. Technical Analysis क्या होता है ?

2. Technical Analysis कैसे काम करता है ?

3. Technical Analysis करने के लिए हमें किन-किन चीजों की जानकारी होना बहुत जरूरी है ?

1. Technical Analysis क्या होता है ?

दोस्तों, Technical Analysis का मतलब होता है कि किसी भी स्टॉक, कमोडिटी, या करेंसी के Past Data (मुख्य रूप से कीमतों) और Current Price (वर्तमान मूल्य) और वॉल्यूम के आधार पर उनकी Future Price को Predict करना, उसका एक अनुमान लगाना, Technical Analysis कहलाता है। क्योंकि दोस्तों, Technical Analysis में हम उन Securities का उनके Past Data, Current Price और Volume के आधार पर Analysis करके उनकी Future Price को Predict करते है, उसका एक अनुमान लगाते है, इसलिए हम उसको उन Securities का Technical Analysis कहते हैं।

अगर मैं आपको दूसरे शब्दों में बताऊं कि Technical Analysis क्या होता है, तो इसे हम ऐसे कह सकते हैं, कि किसी भी वस्तु या चीज के Past Data मतलब की पुरानी कीमतों, और Current Price, और Demand And Supply के आधार पर उस वस्तु या चीज की Future Price को Predict करना, उसका एक अनुमान लगाना, उन वस्तुओं और चीजों का Technical Analysis कहलाता है। 

For Example ;- अगर किसी वस्तु या चीज की उसके Past Data के According कीमतें कम होती जा रही हैं, और उसकी Current Price भी उसकी पिछली कीमतों से कम है, और ना ही उस वस्तु या चीज की Market में ज्यादा Demand है, तो हम उस वस्तु या चीज के Past Data, Current Price, और Demand के आधार पर यह अनुमान लगा सकते हैं कि आने वाले समय में भी उस वस्तु या चीज की कीमतें कम होने की अत्यधिक संभावना है।

और अगर किसी वस्तु या चीज की कीमतें उसके Past Data के According बढ़ती जा रही हैं, और उसकी Current Price भी उसकी पिछली कीमतों से अधिक है, और Market में भी उस वस्तु या चीज की अच्छी खासी Demand है, तो हम उस वस्तु या चीज की उसके Past Data, Current Price और Demand के आधार पर यह अनुमान लगा सकते हैं कि आने वाले समय में उस वस्तु या चीज की कीमतें बढ़ने की अत्यधिक संभावना है।

दोस्तों, मैं आपको बताना चाहता हूँ कि हम किसी भी Stock, Commodity, Currency या अन्य किसी भी वस्तु या चीज के Past Data, Current Price, Volume और Demand And Supply के आधार पर उन Securities की Future Price को 100% Predict नहीं कर सकते हैं, मतलब की उनका 100% अनुमान नहीं लगा सकते है, कि आने वाले समय में उन Securities की कीमतें ऊपर जाएगी या नीचे जाएगी, क्योंकि दोस्तों Technical Analysis में हम बस Securities के कुछ Limited Data के आधार पर ही उनकी Future Price को Predict करने की कोशिश कर रहे हैं, जो कि कभी-कभी गलत भी हो सकता है और कभी-कभी सही भी हो सकता है।

2. Technical Analysis कैसे काम करता है ?

Technical Analysis तीन मुख्य Principles (सिद्धांतों) के आधार पर काम करता है, अगर दूसरे शब्दों में कहा जाए, तो हम कह सकते हैं कि Technical Analysis तीन मुख्य Assumptions मतलब की तीन मुख्य मान्यताओं के आधार पर काम करता है, जो कि नीचे दी गई हैं

  1. Market Action Discounts Everything
  2. Stocks Prices Move In Trends
  3. History Tends To Repeat Itself
Market Action Discounts Everything

Market Action Discounts Everything इस Assumption का मतलब होता है कि बाजार में किसी भी Stock, Commodity और Currency की Prices (कीमतों) में उस Stock, Commodity और Currency से संबंधित सभी Important Fundamental जानकारी पहले से ही शामिल होती है। मतलब की प्रत्येक Securities की कीमतें (Prices) अपने साथ अपनी सभी Important Fundamental जानकारी Carry करती हैं, इसलिए हमें उन Stock, Commodity और Currency से संबंधित किसी भी Fundamental जानकारी को अलग से देखने की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि वो सभी जानकारी पहले से ही उन Stock, Commodity और Currency की Prices में शामिल होती है।

दोस्तों, कहने का मतलब है कि एक कम्पनी के स्टॉक की शेयर Price में उस कम्पनी से संबंधित सभी Important Fundamental जानकारी पहले से ही शामिल होती है, जैसे कि कम्पनी के Business की Quality, Profit & Loss, Earnings, और भी ऐसी बहुत सी Important जानकारी कम्पनी की शेयर प्राइस में शामिल होती है। इसलिए हमें उस कम्पनी के Fundamentals को अलग से देखने की कोई जरूरत नहीं है, ठीक इसी प्रकार एक Currency की Price में भी उस देश की Economy से संबंधित सभी Fundamental जानकारी पहले से शामिल होती है, इसलिए हमें उस Currency के Fundamentals को भी अलग से देखने की कोई जरूरत नहीं है।

For Example ;- अगर किसी कम्पनी के स्टॉक की शेयर प्राइस Market में 500 रूपये चल रही है तो वो 500 रूपये ही क्यों चल रही है ? 100, 200, 1000 या 2000 रूपये क्यों नहीं चल रही ?

क्योंकि उस कम्पनी के स्टॉक की शेयर प्राइस में उस कम्पनी से संबंधित सभी Important Fundamental Factors जुड़े होते हैं, जैसे कि कम्पनी के Business की Quality, Profit & Loss, Earnings, और भी ऐसे बहुत से Fundamental Factors उस कम्पनी के स्टॉक की शेयर प्राइस से जुड़े होते हैं। जिसके कारण उस कम्पनी के शेयर्स की एक प्राइस निकल के आती है, जो की उस कम्पनी के Valuation और Market में उस कम्पनी के शेयर की Demand And Supply के आधार पर तय होती है। और यही कारण है कि उस कम्पनी के शेयर की प्राइस Market में 500 रूपये पर ट्रेड कर रही है, ना कि 100, 200, 1000, या 2000 रूपये पर।

दोस्तों, ठीक इसी प्रकार अगर Market में एक डॉलर की कीमत 75 रूपये चल रही है या फिर 80 रूपये चल रही है, तो उसमें भी उस देश की Economy से संबंधित सभी Important Fundamental Factors पहले से ही जुड़े होते हैं जो कि हमें उस देश की Currency की Price में दिखाई देते हैं, वो भी बिना उस देश की Economy से संबंधित किसी भी Fundamental Factor को देखे।

अगर मैं आपको आसान शब्दों में एक लाइन में समझाऊ की “Market Action Discounts Everything” इस Assumption का क्या मतलब होता है, तो इसे हम ऐसे कह सकते हैं कि “Prices Tell Us Everything About The Company, Commodity And Currency.”

Stocks Prices Move In Trends

Stocks Prices Move In Trends” इस Assumption का मतलब होता है कि “बाजार में प्रत्येक Stock, Commodity, और Currency की Prices एक Trend में Move करती हैं।

अगर मैं आपको दूसरे शब्दों में बताऊं कि “Stocks Prices Move In Trends” इस Assumption का क्या मतलब होता है, तो इसे हम ऐसे कह सकते हैं कि बाजार में प्रत्येक Stock, Commodity, और Currency की Prices एक खाश तरह के Pattern या Trend में घटती और बढ़ती रहती हैं।

इस Assumption में यह माना जाता है कि जिस Pattern या Trend में अभी उन Stock, Commodity, और Currency की Prices Move कर रही है, आगे भी उसी Pattern या Trend में Move करेगी।

दोस्तों, मैं आपको बता दूँ कि Market में तीन प्रकार के Trends होते हैं।

  1. Up Trend
  2. Down Trend
  3. Sideways Trend
1. UP Trend  

Up Trend का मतलब होता है कि इस ट्रेंड में Stock, Commodity, और Currency की Prices एक पैटर्न या ट्रेंड में ऊपर की तरफ बढ़ती रहती हैं। जिसे हम ‘Up Trend’ कहते हैं, जैसा कि आप नीचे चार्ट में देख सकते हैं।

Up Trend
Up Trend
2. Down Trend

Down Trend का मतलब होता है कि इस ट्रेंड में Stock, Commodity, और Currency की Prices एक पैटर्न या ट्रेंड में निचे की तरफ घटती रहती हैं। जिसे हम ‘Down Trend’ कहते हैं, जैसा कि आप नीचे चार्ट में देख सकते हैं।

Down Trend
Down Trend
3. Sideways Trend

Sideways Trend का मतलब होता है कि इस ट्रेंड में Stock, Commodity, और Currency की Prices एक Fixed Range में, एक बॉक्स में घूमती रहती हैं। जिसे हम ‘Sideways Trend’ कहते हैं, जैसा कि आप नीचे चार्ट में देख सकते हैं।

Sideways trend
Sideways Trend
History Tends To Repeat Itself

History Tends To Repeat Itself इस Assumption का मतलब होता है कि Market में History अपने आप को Repeat करती है, वो चाहे स्टॉक मार्केट हो, कमोडिटी मार्केट हो, या करेंसी मार्केट हो। एक Particular Situation में सभी Markets में History अपने आप को Repeat करती है दोहराती है, मतलब की एक कम्पनी के स्टॉक की शेयर Price जिस तरह से Past में एक Particular Situation के आने पर Change हुई थी, अगर आगे आने वाले समय में वैसी ही Situation उस कम्पनी के सामने फिर से आती है, तो उस कम्पनी के शेयर की Price वैसे ही Change होगी, जैसे की पहले उस Situation के आने पर हुई थी।

दोस्तों, कहने का मतलब है कि अगर एक Particular Situation Market में दो या तीन बार आती है, तो Most Of The Time Investors और Traders उस Situation पर Same React करते हैं, मतलब की Past में कोई Situation आने पर जैसा React किया था, आगे भी वैसी Situation आने पर वो वैसा ही React करेंगे।

इस Assumption में माना जाता है कि किसी भी Stock, Commodity और Currency की कीमतें हमेशा Investors और Traders के Emotions और Behavior के साथ Change होती हैं।

3. Technical Analysis करने के लिए हमें किन-किन चीजों की जानकारी होना बहुत जरूरी है ?

किसी भी Stock, Commodity, या Currency का Technical Analysis करने के लिए, हमें सबसे पहले यह जानना जरूरी होता है कि हम कैसे किसी भी Stock, Commodity, या Currency के Charts को पढ़ सकते हैं उन्हें Read कर सकते हैं।

एक Stock, Commodity, या Currency के Charts को पढ़ने के लिए हमें जिन चीजों की जानकारी होना बहुत जरूरी है, वो निचे दी गई हैं।

  1. Market Trends 
  2. Chart Types
  3. Candlesticks 
  4. Chart Patterns
  5. Price Action
  6. Support And Resistance
  7. Demand And Supply
  8. Trend Line
  9. volume
  10. Dow Theory
  11. Technical Indicators  

Important Points

  • Technical Analysis का मतलब होता है कि किसी भी स्टॉक, कमोडिटी, या करेंसी के Past Data (मुख्य रूप से कीमतों) और Current Price (वर्तमान मूल्य) और वॉल्यूम के आधार पर उनकी Future Price को Predict करना, उसका एक अनुमान लगाना, Technical Analysis कहलाता है। 
  • Technical Analysis तीन मुख्य Principles (सिद्धांतों) और तीन मुख्य Assumptions (मान्यताओं) के आधार पर काम करता है, जैसे कि Market Action Discounts Everything, Stocks Prices Move In Trends, और History Tends To Repeat Itself आदि
  • Market Action Discounts Everything इस Assumption का मतलब होता है कि एक Stock, Commodity और Currency की Prices (कीमतों) में उस Stock, Commodity और Currency से संबंधित सभी Important Fundamental जानकारी पहले से ही शामिल होती है। जैसे कि News, Events, और अन्य वित्तीय आंकड़ों से संबंधित जानकारी।
  • Stocks Prices Move In Trends इस Assumption का मतलब होता है कि बाजार में प्रत्येक Stock, Commodity, और Currency की Prices एक Trend में Move करती हैं।
  • History Tends To Repeat Itself इस Assumption का मतलब होता है कि Market में History अपने आप को Repeat करती है, वो चाहे स्टॉक मार्केट हो, कमोडिटी मार्केट हो, या करेंसी मार्केट हो। एक Particular Situation में सभी Markets में History अपने आप को Repeat करती है
  • Market में तीन प्रकार के Trends होते हैं जैसे कि Up Trend, Down Trend और Sideways Trend आदि
  • Up Trend का मतलब होता है कि इस ट्रेंड में Stock, Commodity, और Currency की Prices एक पैटर्न या ट्रेंड में बढ़ती रहती हैं। जिसे हम ‘Up Trend’ कहते हैं
  • Down Trend का मतलब होता है कि इस ट्रेंड में Stock, Commodity, और Currency की Prices एक पैटर्न या ट्रेंड में घटती रहती हैं। जिसे हम ‘Down Trend’ कहते हैं
  • Sideways Trend का मतलब होता है कि इस ट्रेंड में Stock, Commodity, और Currency की Prices एक Fixed Range में एक बॉक्स में घूमती रहती हैं। जिसे हम ‘Sideways Trend’ कहते हैं
  • Technical Analysis का मुख्य उद्देश्य एक Stock, Commodity, और Currency की Future Prices की Direction को Predict करना होता है, उसका एक अनुमान लगाना होता है कि आगे आने वाले समय में उस Stock, Commodity, और Currency की Prices किस Direction में Move करेंगी।

NOTE;- अगर आपके पास अभी तक Demat और Trading Account नहीं है, तो आप निचे दिए गए Link पर Click करके भारत के प्रमुख Discount Broker के पास अपना Demat और Trading Account खोल सकते हैं और Stock Market में Invest कर सकते हैं।

So I Hope कि आपको समझ में आ गया होगा कि Technical Analysis क्या होता है ? तो आपको Technical Analysis पर हमारा यह Article कैसा लगा, निचे Comments करके जरूर बताइयेगा।

धन्यवाद ।। ”

 

 

One Comment on “Technical Analysis क्या होता है ?”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *